Lalchi Mithai wala : लालची मिठाईवाला | kahani in hindi | oneanonlyvihat


Lalchi Mithai wala : लालची  मिठाईवाला ( kahani in hindi )



हेलो दोस्तों कैसे हो आप सब! उम्मीद है अच्छे से होंगे! मैं आज फिर हाजिर हूं आपके लिए एक नई और मजेदार कहानी लेकर! आज कि हमारी कहानी है लालची मिठाईवाला (lachi mithaiwala)  के बारे में! तो चलिए शुरू करते हैं हमारी आज की लालची मिठाई वाला  की कहानी (Story).


lalchi mithai wala : लालची मिठाई वाला


लालची मिठाई वाला : lalchi mithai wala



लालची मिठाई वाला (lalchi mithai wala) : किसी एक गांव में एक बहुत ही नामचीन मिठाईवाला रहता था! जिसकी मिठाई की बहुत बड़ी दुकान थी! वह रोज सुबह ढेर सारी नए-नए प्रकार की मिठाइयां बना था! लेकिन उसकी मिठाईया है इतनी स्वादिष्ट होती थी कि उसकी दुकान के सामने ग्राहकों की बड़ी लंबी लाइन लगती थी! और शाम होते-होते उसकी बनाई हुई सारी मिठाइयां खत्म हो जाती थी! इस से मिठाई वाले को काफी मुनाफा होता था! यह देखकर वह और उसकी पत्नी बहुत ही खुश थे! दिन प्रतिदिन उसके धन-संपत्ति और पैसों मैं बढ़ोत्तरी हो रही थी! और उन दोनों का जीवन काफी खुशहाली से गुजर रहा था!


लेकिन एक दिन मिठाई वाले के मन में और भी ज्यादा धन और पैसे कमाने के लालच जागी! फिर उसने एक तरकीब निकाली! उसने अपने मिठाई तोलने वाले एक तराजू के नीचे एक चुंबक का बड़ा टुकड़ा लगा दिया! और ऐसा करके वह अपने ग्राहकों को ठगने लगा! 


ऐसा करने के बाद अब मिठाई वाले को पहले से ज्यादा पैसे मिलने लगे और उसकी धन-संपत्ति बढ़ने लगी! यह बात उसकी पत्नी को बिल्कुल भी पसंद नहीं आई!


उसने मिठाई वाले से कहा “तुम जो यह तराजू के नीचे चुंबक लगाकर मिठाई बेचते हो वह बिल्कुल गलत है! ऐसा करके तुम अपने ही ग्राहकों को लग रहे हो”


पत्नी की यह बात सुनकर मिठाई वाले ने अपनी पत्नी से कहा कि “ तुम चुप रहो, तुम्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा मुझे और पैसे और धन दौलत चाहिए! और यही सही तरीका है और पैसे कमाने का! ”


कुछ दिनों तक मिठाईवाला अपने ग्राहकों को ऐसे ही ठगता रहा. एक दिन उसकी दुकान पर एक संजू नाम का लड़का मिठाई खरीदने आया, उसने मिठाई वाले को 2 किलो मिठाई देने के लिए कहा! मिठाई वाले ने संजू को 2 किलो मिठाई तोल के देदी!


लेकिन संजू ने जैसे ही मिठाई अपने हाथ में ली तो उसे मिठाई का वजन 2 किलो से कम लगा! उसने इस बात की पुष्टि करने के लिए मिठाई वाले से उसकी मिठाई को दोबारा तोलने के लिए कहा!


इस पर मिठाई वाले ने कहा कि “ मेरे पास इतना समय नहीं है कि मैं तुम्हारी मिठाई को बार बार तोल कर दिखाउ, मेरे पास और भी बहुत सारा काम पड़ा है! ” यह कहकर उसने संजू को वहां से भगा दिया!


संजू वहां से निकलकर सीधा एक किराने की दुकान पर गया! और वहां जाकर उसने दुकानदार से कहा कि “भैया, कृपया करके आप तोल कर बता सकते हो कि यह मिठाई कितने किलो है”


संजू की यह बात सुनकर दुकानदार ने तुरंत ही उस मिठाई के थैली को अपने दुकान के तराजू में तोला और संजू को बताया कि यह तो सिर्फ डेढ़ किलो मिठाई ही है”

अब संजू का शक यकीन में बदल गया था! फिर उसने यह सब कैसे हो रहा है उसकी जांच करने की ठान ली! फिर वह कुछ दिन तक मिठाई वाले की जासूसी में लग गया और उसने पाया कि मिठाई वाले के तराजू में है कुछ गड़बड़ है!


थोड़े दिनों बाद संजू कहीं से राजू ले आया और उस तराजू को लेकर मिठाई वाले की दुकान के सामने खड़ा हो गया और चिल्लाने लगा “जादुई तराजू, जादुई तराज! इस तराजू में मिठाई को तोलने से उसका वजन अपने आप कम हो जाता है!”



संजू की यह बात सुनकर वहां भीड़ एक जुट लगी! सब ग्राहक संजू के तराजू से वजन की पुष्टि कराने लगे! वजन कराने के बाद लोगों ने पाया कि उन सब की मिठाई का वजन 500 ग्राम कम निकल रहा है ! यह सब देख कर लोगों को काफी आश्चर्य हुआ, यह सब क्या चल रहा है यह उनको बिल्कुल भी समझ में नहीं आ रहा था


इतने में मिठाईवाला वहां आ पहुंचा और संजू से झगड़ा करने लगा और कहने लगा कि ” ऐसा कोई तराजू नहीं होता! तुम लोगों को बेवकूफ बना रहे हो! इसीलिए मेरी दुकान के सामने कोई तमाशा मत करो और जाओ यहां से”


मिठाई वाले की बात सुनकर संजू ने कहा कि “ तुम सही कह रहे हो! कोई जादुई तराजू नहीं होता, मैं अभी सबको बताता हूं कि यह कैसे हो रहा है!”


इतना कह कर वह मिठाई वाले का तराजू ले आया और सबको तराजू के नीचे लगे चुंबक को निकालकर दिखाने लगा! यह देखने के बाद ग्राहकों को बहुत ही गुस्सा आया और उन्होंने मिठाई वाले को बहुत पीटा!


अब मिठाई वाले को अपनी करनी पर बहुत पछतावा हो रहा था! उसने अपने सारे ग्राहकों से माफी मांगी और दोबारा कभी भी ऐसी हरकत ना करने का वचन दिया...



Read Also : यह भी पढ़ें




तो दोस्तों यह थी हमारी आज लालची मिठाईवाला की कहानी! आशा करता हूं आप सबको हमारी आज की कहानी पसंद आई होगी! ऐसे ही और भी नई नई कहानियां पढ़ने के लिए वेबसाइट oneanonlyvihat को दोबारा जरूर विजिट करें
कहानी पढ़ने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया...


धन्यवाद...



Post a Comment

0 Comments